महाकाल की लगन

मोहे लागी रे लगन महाकाल की लगन
              तुम्हारे नाम से किस्मत मेरी सजा लू मैं-2
तुम्हारे चरणों को ही अपना घर बना लू मैं,
              मुझे कर गई मगन-2 महाकाल की लगन।

1:– मेरी लगन सहारा बन मुझे संभालेगी ,
                मेरी बलाए मेरे दुख लगन ही टालेगी ,
    मेरी लगन मेरी भक्ति का ये सिला देगी-2
                 मेरे महाकाल से मुझको भी ये मिला देगी ,
    दे गई दीवानापन -2 महाकाल की लगन।
     मोहे लागी रे......

2 :– आता हूं दर तेरे पल भर के लिए ,
                थोड़ा अपने लिए थोड़ा घर के लिए ,
     अपनी किस्मत पर तेरी नजर के लिए ,
                 सामने तेरे दुनिया को भूल जाऊ में -2
     तेरा हो जाता हु उम्र भर के लिए ,
    बदल गया ये जीवन-2 महाकाल की लगन।
     मोहे लागी रे......

3:– मैं धूल बनके तेरी राह में बिखर जाऊं ,
                  मैं फूल बनके तेरी राह में बिखर जाऊं,
      रहू मैं पास तेरे भक्ति ऐसी कर जाऊं-2
                  तेरे चरणों से लगके भोले मैं भी तर जाऊं,
     भक्तिमय करे है मन-2 महाकाल की लगन ।
      मोहे लागी रे......।
   
मोहे लागी रे लगन महाकाल की लगन .....।
श्रेणी
download bhajan lyrics (199 downloads)