गोरां नी तेरा बुड्ढा लाड़ा

कोई आखे डमरू वाला कोई आखे सप्पा वाला
कोई आखे एह रगड़े लोंदा पीवे भंग दा प्याला
बुड्ढा लाड़ा गौरां नी तेरा बुड्ढा लाड़ा बम बम बम बम ( 2 )

बैल ते चढ़ के आ गया नी तेरा बुड्ढा लाड़ा
ओहदा गज गज लमके दाड़ा नी तेरा बुड्ढा लाड़ा
              बैल ते चढ़ के आ गया नी तेरा बुड्ढा लाड़ा.....

जंज वेख़ के भाजड़ पै गई , दुनिया हक्की बक्की रह गई
बम बम बम बम बोल के भोला, बूहे अगे आ गया नी तेरा बुड्ढा लाड़ा
               बैल ते चढ़ के आ गया नी तेरा......

भूत चड़ेलां नचदे गौंदे, शुक्र शनिचर भड़थू पोंदे
दो बच्चियां दा टोला गौरां, राशन सारा मुका गया नी तेरा बुड्ढा लाड़ा
                बैल ते चढ़ के आ गया नी तेरा.........

शिव शंकर दी लीला न्यारी , तीन लोक दा मालक भंडारी
शिव गौरां दे विआह दी महिमा , कम्मा – शैली गा गया नी तेरा बुड्ढा लाड़ा
                बैल ते चढ़ के आ गया नी तेरा बुड्ढा लाड़ा......
श्रेणी
download bhajan lyrics (58 downloads)